धर्म

Vastu Tips: घर की इस दिशा में रखें पानी से भरा मिट्टी का घड़ा ! खुल जायेंगे नसीब, भर जाएगी धन की तिजोरी

Vastu Tips: घर में रखी हर एक चीज को वास्तु शास्त्र के अनुसार रखना चाहिए। गर्मियां आ गई इन दिनों में हर घर में मिट्टी के घड़े में पानी भरकर सभी रखते है। लेकिन आया आप जानते है आपको मिट्टी का मटका किस दिशा में रखना चाहिए। चाहे शहर हो या फिर गांव आपको किसी सार्वजनिक जगह पर पानी से भरा मिट्टी का मटका रखना चाहिए। इसका पानी न केवल पीने में अच्छा लगता है, बल्कि स्वास्थ्य के लिये भी यह बहुत अच्छा माना जाता है। इन नियमों का पालन किया जाए तो घर में सुख-समृद्धि आती है। तो आइये जानते है घर में रखे जाने वाले मटके से जुड़े कुछ नियम के बारे में.

यह भी पढ़े:-सफ़ेद, पीली और काली और भी कलर की होती है गाड़ियों की नंबर प्लेट, जानिए इनके बारे में

मिट्टी का मटके से जुड़े कुछ वास्तु नियम

अगर आप मिट्टी के मटके का इस्तेमाल करते है तो वास्तु शास्त्र में धनवान बनने के लिए ये आसान उपाय है। जो बहुत ही प्रभावशाली है।

हमेशा मिट्टी के मटके को घर के उत्तर दिशा में रखना चाहिए और इसमें साफ जल भरकर रखना चाहिए। इस पानी का उपयोग पीने और भोजन बनाने के लिए करें।

अगर आप मिट्टी के मटके का पानी इस्तेमाल में नहीं लेते है तो इसे पेड़-पोधो में डाल दें। लेकिन ध्यान रहे कि मटके के पानी को समय-समय पर बदलते रहें।

वास्तु शास्त्र के अनुसार जिस घर में मिट्टी का मटका या सुराही होती है, वहां हमेशा मां लक्ष्मी का वास होता है। इससे घर में धन का आगमन होता है। घर में बरकत बनी रहती है। पैसों की तंगी दूर होती है। जब भी आप अपने घर में मटका रखें, तो उसमें हमेशा जल भरकर रखें।

यह भी पढ़े:-Beetroot Farming: इस तरह से करें चुकंदर की खेती, बदल जाएगी किसानों की किस्मत, हर 3 महीने में होगी मोटी कमाई

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर की उत्तर दिशा में देवताओं का वास होता है। पानी से भरा हुआ मटका या सुराही हमेशा उत्तर दिशा में रखें। इससे देवी-देवता प्रसन्न होते हैं। घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

यदि आप पानी से भरा मटका अपने किचन में रख रहे हैं और उसका उपयोग पीने में करते हैं, तो रोज शाम को तुलसी के पास दिया जलाने के बाद एक दीपक किचन में पीने के पानी के पास भी रख दें। इससे आपके घर में हमेशा बरकत बनी रहेगी।

किचन में मटका रखते समय इस बात का ध्यान रखें कि उसके आसपास चूल्हा ना हो। अग्नि और जल को कभी भी पास न रखें। यह बड़ा वास्तु दोष पैदा करता है।

वास्तु के अनुसार पंच तत्वों- अग्नि, वायु, जल, पृथ्वी और आकाश में से उत्तर दिशा का संबंध जल तत्व से है। ऐसे में उत्तर दिशा में जल संबंधी चीजें रखने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है।

Back to top button