Automobile

यू ही नहीं होती गाड़ियों के पिछले ग्लास पर रेड लाइंस, क्या होते है इसके फायदे और किस नाम से जानते है इसे, जानिए

यू ही नहीं होती गाड़ियों के पिछले ग्लास पर रेड लाइंस, क्या होते है इसके फायदे और किस नाम से जानते है इसे, जानिए। हम जैसे ही सड़क पर निकलते है वैसे ही कई तरह की कारे और वाहन हम देखते है, और इसी के साथ गाड़ियों से जुड़े कई सवाल भी मन में आते है की यह क्यों है और किस लिए बनाया गया है, ऐसा ही सवाल है की गाड़ियों के पीछे के ग्लास पर रेड लाइन क्यों होती है, और इसे क्या कहते है, तो आइये जानते है इसके बारे में..

यह भी पढ़े- Brezza का गेम ओवर कर देंगी Mahindra की दमदार SUV, तगड़े माइलेज और फीचर्स भी है लालनटॉप, देखे कीमत

इस नाम से जानते है रेड लाइंस को

आज कल गाड़ियों बहुत सी नई टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल हो रहा है. इसी में से एक है यह टेक्नोलॉजी आपको बता दे की इन रेड लाइंस को रियर डिफॉगर ग्रिड या डिफॉस्टर ग्रिड कहते हैं. अब आपको इसका क्या काम होता है इसके बारे में बताते है.

यह भी पढ़े- TVS की धज्जिया मचा देंगी Honda की फेमस स्कूटर, जबरदस्त माइलेज के साथ फीचर्स भी है दमदार, देखे कीमत

रियर डिफॉगर ग्रिड से यह है फायदे

इसके फायदे के बारे में बात करे तो यह रेड लाइंस विसिब्लिटी को अच्छा बनाती है, जिससे की दूर की चीजे या वाहनों को आसानी से देखने में मदद मिलती है. खास कर के सर्दियों में. जिससे की हादसों से बचा जा सकता है.

Back to top button